जनरल नॉलेज भारत और इसकी इतिहास के बारे में

भौगोलिक रूप से एशिया महाद्वीप पर दक्षिणी क्षेत्र में स्थित 7 वां सब से बड़ा देश भारत विश्व भर में प्रशिद है। इसके प्रसिद्धि के और वि कई सारे कारन ।

तो प्रिय दोस्तों आज हम इस article  के माध्यम से अपनी जन्मभूमि भारत माता के बारे में जानेंगे। समक्ष विश्व में भारत एक मात्र देश है जिसे माता का दर्जा दिया गया है, जिसे हम माँ के सामान सम्मान भाव से आदर प्रकट करते है, जिसकी मिटटी हमे परणो से भी ज्यादा प्यारी है , जिसके राष्ट्रगान से हमारे लहू में बिजली की सी कौंध जाती है।

भारत की विशेषताएं

सब से बड़ा लोक तंत्र , द्वितीय सर्वाधिक आबादी , अधिकाधिक भासाये, बृहद डाक सेवा, हीरे का जनक , प्रमुख धर्मों का जन्म आस्थान, शतरंज का आविष्कारक , सुण्या का खोजकर्ता , कला संस्कृति एवं योग का उत्पत्ति करक के अलावे भी हमारा देश भारत अन्य कई चीजों के लिए जाना जाता रहा है।

दुनिया भर में भारत दूसरी सब से ज्यादा आबादी वाला देश है , जबकि क्षेत्रफल के मामले में यह 7 वां सस्थान पर है। भारत देश को सभी दिशाओ से प्राकृतिक स्वरुप एवं अपने सहस सुदृढ़ सुरक्षाबल एवं देश की अन्य शक्तियों ने न केवल सुरक्षित अपितु सम्पूर्ण जग में अपनी संस्कृति , परंपरा, सौहार्द्य पूर्ण पारम्परिक सिद्धांतों एवं अपने इतिहास को सुरक्षित रखा है ।

दक्षिण में भारतीय महासागर, पूर्व में बंगाल की कड़ी, पश्चिम में arabic sagar द्वारा प्राकृतिक रूप से भारत सुरक्षित है। साब से ऊचा पर्वत हिमालय को भारत अपने भूभाग में स्थान दिए हुए है। भारत लोकतांत्रिक, साम्प्रदाईक, भाईचारे , धर्मनिरपेक्ष , विश्वसन्ति एवं वसुधैव कुटुम्बकम के पथ पर अग्रसर है।

भारत की राज भाषा हिंदी के साथ साथ 22 अन्य भासाओ को मान्यता प्रप्थ है जब की इसके अतिरिक्त अन्य कई सारी भासाये एवं बोली देखने एवं सुनने को मिलती है।

जनरल नॉलेज भारत के बारे में

भारत गणराज्य

स्थितदक्छिणी एशिया
भारत के अन्य नाम भारत , इंडिया, हिंदुस्तान , आर्यावर्त , रेवा ,जम्बूदीप, सोने की चिड़िया
राजधानी नयी दिल्ली
बड़ा नगरमुंबई
मान्यता प्राप्त भाषाहिंदी ( राष्ट्रभाषा ), असमिया , बंगला , बोडो, डोगरी , गुजरती , कन्नड़ , कश्मीरी , कोंकणी , मैथली , मणिपुरी , मलयालम , मराठी , नेपाली , ओड़िया , पंजाबी , संस्कृत , संथाली, सिंधी, तमिल, तेलगु , उर्दू
सरकारसंघीय संसदीय , संवैधानिक गणराज्य
बिधानमण्डलभारीतय संसद – उच्च सदन ( राज्यसभा ) नींम सदन ( लोकसभा )
स्वतंत्रताअधिराज्य – 15 Aug 1947 , गणराज्य – 26 Jan 1950
मुद्राभारतीय रूपया
क्षेत्रफल 3267263 km sq.
दूरभाष कोड +91

भारत का इतिहास

भारत में अपने भूमि पर कई साडी धर्म मान्यताओं एवं विभिन्य भिन्न भिन्न विचार एवं मान्यताओं वालो को स्थान दिया है। ऐसी मान्यता है की भारत भूमि पर जन्म लिए सनातन धर्म सभी धर्मों में पुराना धर्म है। भारत के किसी भी लेखों में सनातन धर्म के जन्म की कोई वि कथा की पुस्टि नहीं की गयी है लेकिन पुराने समय से ऐसा मन जाता रहा है की इस धर्म की स्थापना नहीं अपितु उसका उद्भव हुआ है। 1200 ईसा पूर्व संस्कृत भाषा संपूर्ण भारतीय महाद्वीप में फैली हुई थी जिसका आशय यह है की 1200 ईसा पूर्व से भी पहले यहाँ पर हिन्दुत्वा का उद्धव हो चूका था अर्थात तबतक यहाँ ऋग्वेद के साथ अन्य वेद एवं कई पुराणों की रचना हो चुकी थी अतैव भारत की परंपरा संस्कृति एवं भारत का पुरातन इतिहास कई 100 वर्षों पूर्व का है।

400 ईसा पूर्व भारत के इसी पवन धरती पर पवित्र बौद्ध धर्म एवं जैन धर्म की उत्पत्ति हुई थी , इसी समय हिन्दुओं में जातिवाद को भी देखा गया था तत्पश्च्यात ईसाई , इस्लाम , यहूदी , और पारसी धर्मों ने प्रारंभिक मध्ययुग काल में भारत के दक्षिणी एवं पश्चिमी तटों पर अपनी अपनी जड़े जमाई थी। मौर्या , गुप्ता , दिल्ली सल्तनत स्थापना , विजयनगर साम्राज्य की काल को पर करते हुए 1858 में भारत पर ब्रिटिश राज शासन ने पैर जमा लिया। अपनी सैमप्रभुता के मजबूत होने के बावजूद ब्रिटिश राज को मुँह की खानी पड़ी। अंततः 1947 में देश भारत को ब्रिटिश अंग्रेजी हुकूमत द्वारा भारतीयाः साम्राज्य को 2 स्वतंत्र प्रभुत्वों में विभाजित करना पड़ा जो की भारत एवं पाकिस्तान के नाम से जाना गया। पुरे विश्व में यह पहला विभाजन रहा जिसे धर्म के आधार पर किया गया।

आज भारत संघीय गणराज्य एवं सर्वे धर्म संभव वाला एक अनोखा देश है। अंतरिक्ष क्षेत्र में भारत ने अनेको उल्लेखनीय एवं अद्वित्य प्रगति करी है। भारत परमाणु बम रखने वाला एक शक्तिसाली देश है। इसके साथ ही आज भारत प्रमुख रूप से अर्थवयवस्था को मजबूत एवं अपने सभी चुनौतियों से लड़ने एवं प्रशंसनीय कार्य की ओर अग्रसर है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *